लॉक डाउन के दौरान फरीदाबाद पुलिस बनी बुजुर्गों लोगों का सहारा 

0
409
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : आपको बताते चलें कि आशा देवी पत्नी श्री शिव प्रशाद श्री वास्तव निवासी मकान नम्बर 176, गली नम्बर 3, भूड कलौनी, नजदीक रामा स्वीट्स, ओल्ड फरीदाबाद की रहने वाली है। जिस वृद्ध औरत का ब्रेन हेमरेज का इलाज सफदरजंग हस्पताल से चल रहा है। जोकि वृद्ध, आर्थिक स्थिति कमजोर व लोकडाउन होने के कारण दवाई नहीं ले पा रही थी। जिस पर उप निरीक्षक हुक्म सिंह को पता चलने पर, उसने 20 दिन की दवाइयाँ सफदरजंग अस्पताल के पास दिल्ली (दुकान) से शिघ्र उपलब्ध करवाई। उप निरीक्षक हुकम सिंह ने बताया कि आज मैं एक ज़रूरतमंद वृद्ध औरत की मदद करके, अपने आप को गोरवान्वित महसूस कर रहा हूँ।
2. इसके अलावा पुलिस चौकी सेक्टर 55 को भूपेंद्र नाम के व्यक्ति की एक कॉल प्राप्त हुई जिसमें उसने कहा कि उनका एक बुजुर्ग रिश्तेदार आशियाना फ्लैट सेक्टर 56 में रहता है। जो बुजुर्ग एवं असहाय और लॉक डाउन होने की वजह से दवाई लेने बाहर नहीं जा पा रहा है। जिस पर पुलिस चौकी सेक्टर 55 ने डॉक्टर के द्वारा लिखे गए पर्चे को व्हाट्सएप ग्रुप पर मंगवाया। पुलिस चौकी सेक्टर 55 इंचार्ज एसआई नरपत सिंह अपने स्टाफ के साथ मेडिकल स्टोर से दवाइयां लेकर बताए गए पते पर पहुंचकर बुजुर्ग व्यक्ति को दवाइयां देकर उसकी मदद की।
3. इसके अलावा सेक्टर 15 चौकी में पुलिस को एक कॉल प्राप्त हुई जिसमें एक वृद्ध महिला ने बताया कि उसको दवाइयों की सख्त जरूरत है। जिस पर चौकी इंचार्ज एसआई दिलावर सिंह कोठी नंबर 12 सेक्टर 15 पहुंचे। वहां पर मौजूद एक 75 वर्षीय बुजुर्ग महिला ओपिंदर पत्नी स्वर्गीय भजन सिंह ने बताया कि उनके पति का देहांत हो गया है उनको एक लड़का है जो मुंबई में अपने परिवार सहित रहता है। वह यहां पर अकेली रहती है उनका इलाज एशियन हॉस्पिटल में चल रहा है। लेकिन दवाई लाने के लिए उनके पास कोई नहीं है। जिस पर चौकी इंचार्ज सेक्टर 15 एसआई दिलावर सिंह ने पीसीआर 13 को एशियन अस्पताल भेज बुजुर्ग महिला को दवाई उपलब्ध कराई गई। दवाइयां पाकर बुजुर्ग महिला की आंखों में आंसू आ गए और कांपते हुए हाथों से दवाई पकड़ते हुए दरवाजे पर खड़े पुलिसकर्मियों का धन्यवाद किया। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि फरीदाबाद पुलिस जरूरतमंद बुजुर्ग लोगों की सहायता कर रही है।