मच्छगर ग्राम पंचायत ने सीएम रिलीफ फंड में दिया एक करोड़ का चेक

0
584

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : देश में वैश्विक कोरोना महामारी की रोकथाम को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पंचायतों को संबोधित करने के बाद अब ग्रामीण क्षेत्र भी वैश्विक महामारी कोरोना से लडऩे के लिए आगे आ रहा है। इसी कड़ी में पृथला विधानसभा क्षेत्र के गांव मच्छगर की ग्राम पंचायत द्वारा शनिवार को क्षेत्र के विधायक एवं हरियाणा भंडारण निगम के चेयरमैन नयनपाल रावत को मुख्यमंत्री रिलीफ फण्ड के लिए एक करोड़ की राशि का चेक भेंट करके एक सराहनीय पहल की है। उक्त चैक को गांव के सरपंच नरेश कुमार ने विधायक नयनपाल रावत को सौंपा, जिसे विधायक जिला उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री रिलीफ फण्ड तक पहुंचाएंगे। इस मौके पर विधायक नयनपाल रावत ने कहा कि आज समूचा देश कोरोना महामारी से लड़ रहा है और जिस प्रकार से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कड़े निर्णय लेकर देश को इस वैश्विक महामारी से काफी हद तक बचाने का काम किया है, उसने पूरे विश्व में एक मिसाल कायम की है वहीं हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में प्रदेश ने कोरोना संकट पर काबू हद तक काबू पाया है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को सरकार ने गंभीरता से लेते हुए जगह-जगह जहां शहर को सेनिटाईज करवाया वहीं लॉकडाउन के दौरान गरीब व जरूरतमंदों को रेडक्रास की ओर से पका व कच्चा राशन उपलब्ध करवाया, जिससे कि कोई गरीब व्यक्ति भूखा न सोए। श्री रावत ने कहा कि पृथला विधानसभा क्षेत्र की जनता ने सरकार के लॉकडाउन की पूरी तरह से पालना की और सोशल डिस्टेंसिंग अपनाकर देश के प्रति अपना दायित्व निभाने का काम किया है, यही कारण है कि इस क्षेत्र में एक भी कोरोना पॉजिटिव मामला नहीं आया, जिसके लिए वह क्षेत्र की जनता का आभार जताते है। उन्होंने कहा कि इस आपदा की घड़ी में देश व प्रदेश की सरकारों को सहयोग करने के लिए जिस प्रकार से समाजसेवी संस्थाएं, ग्राम पंचायतें, सामाजिक लोग आगे आ रहे है, वह सराहनीय कदम है और इस प्रकार मजबूती से कार्य करके ही हम कोरोना को मात दे सकते है। उन्होंने मच्छगर ग्राम पंचायत की प्रशंसा करते हुए कहा कि फरीदाबाद जिले की यह पहली ऐसी पंचायत है, जिसने इतनी बड़ी राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है, जिसने पूरे पृथला क्षेत्र का नाम गौरवान्वित किया है। उन्होंने ग्रामीणों से आह्वान किया कि इस संकट के दौर में जिस प्रकार से उन्होंने लॉकडाउन का पालन करते हुए देश को मजबूत करने के लिए सहयोग राशि दी है, वह अच्छी पहल है और अन्य ग्राम पंचायतों को भी इससे प्रेरणा लेनी चाहिए। इस अवसर पर बल्लभगढ़ ब्लाक के सेक्रेटरी राजेश पाराशर भी मौजूद थे।