रेडक्रॉस सोसाइटी का दो दिवसीय जिला स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता का हुआ समापन

0
237
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 8 फरवरी। हरियाणा रेडक्रॉस सोसाइटी कि राज्य शाखा के महासचिव डीआर शर्मा के आदेशानुसार तथा उपायुक्त कम रेसिडेंट रेडक्रॉस सोसाइटी यशपाल आईएएस के दिशा-निर्देशन में दो दिवसीय जिला स्तरीय एंबुलेंस प्रतियोगिता का आज समापन हो गया। यह कार्यक्रम सुबह 9 बजे से शाम को 5 बजे तक सुचारू रूप से चला। इस समय ब्रिगेड टीमों को नदी, नाले व खाई आदि को पार करना सिखाया। टनल में से कैजुअल्टी को निकालना, पहाड़ पर चढऩा, बहुमंजिला इमारतों से उतरना, बेहोशी का उपचार, बहते हुए खून को रोकना, जहर खा लेना, आग में जल जाना, हड्डी टूट जाना, फांसी पर लटक जाना तथा सडक़ दुर्घटना में घायल हो जाना आदि के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देकर सिचुएशन को हैंडल करना सिखाया तथा उसी से संबंधित प्रश्न किए गए।
समापन समारोह में रेडक्रॉस सोसाइटी के सचिव विकास कुमार ने बतौर मुख्य अतिथि कहा कि इन प्रतियोगिताओं से टीम में काम करने की आदत बनती है और सेवा भावना आती है। इन प्रतियोगिताओं के माध्यम से किसी भी आहत चोटिल पीडि़त की प्राथमिक सहायता देकर मदद की जा सकती है। विकास कुमार ने सभी विजेताओं को शुभकामनाएं देते हुए कैंप कोऑर्डिनेटर डॉ. एमपी सिंह की पीठ थपथपाई और कहा कि हमें डॉ. एमपी सिंह की महान व्यक्तित्व से सीख लेनी चाहिए और इन्हीं की तरह समर्पण के साथ काम करना चाहिए।
इस अवसर पर नरसिंह एंबुलेंस डिवीजन में अग्रवाल कॉलेज बल्लभगढ़, मुरारीलाल सीनियर सेकेंडरी स्कूल, मॉडर्न बीपी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की टीमों ने बाजी मारी तथा केडिट नर्सिंग डिवीजन में शिरड़ी साईं बाबा पब्लिक स्कूल, विद्या मंदिर सीनियर सेकेंडरी स्कूल और मुरारी लाल पब्लिक स्कूल की टीमों ने बाजी मारी। इस प्रतियोगिता में 22 टीमों ने भाग लिया। निर्णायक मंडल में डॉ. मानसिंह डिप्टी सीएमओ ऑल इंडिया मेडिकल इंस्टिट्यूट बल्लभगढ़, डॉ. रितिका भाटिया ऑल इंडिया मेडिकल दिल्ली, डॉ. नीरज गुलिया हेल्थ ऑफिसर, डॉ. हेमंत शामिल रहे तथा पूर्व सचिव बीवी कथूरिया और रेडक्रॉस के आजीवन सदस्य दर्शन भाटिया व अकाउंटेंट रोहताश कुमार ने साथ व सहयोग दिया।
कैंप कोऑर्डिनेटर डॉ एमपी सिंह ने दो दिवसीय कैंप के समापन के अवसर पर सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया। सेंट जॉन एंबुलेंस ब्रिगेड कंपटीशन में भाग लेने सभी प्रतिभागियों को प्रशंसा पत्र दिए गए तथा विजेता प्रतिभागियों को स्वर्ण, रजत और कांस्य मेडल देकर सम्मानित किया गया।