चरखे से रुबरु हो रही देश की भावी पीढी

0
192
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj :13 फरवरी। सूरजकुंड मेले में जहां एक तरफ देश विदेश के स्टाल लगे हुए हैं। मुख्य चौपाल के नजदीक बने अपना घर में रखा चरखा मं युवी पीढ़ी के लिए आकर्षण बना हुआ है। हमारी पारंपरिक विरासत चरखे को सल्फी के माध्यम से पर्यटक अपने कैमरे में कैद कर रहे है। महिला, पुरूष या बच्चे चरखे के साथ सेल्फी का मौका छोडऩा नहीं चाहता। हर किसी पर चरखे के साथ बैठकर उसे चलाते हुए सेल्फी लेने का क्रेज है। बच्चे जहां पहलीबार चरखा चला कर उत्साहित हैं तो बड़े पुराने दिनों की यादें ताजा कर रहे हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने पहली बार चरखे को न सिर्फ इतने करीब से देखा बल्कि उसे चला कर भी देखा। खासकर स्कूली बच्चे चरखे के बारे में जानकर और इसे चलाने में उत्साहित दिखे।