5 वर्ष पूर्व अपहरण की गई 3 माह की बच्ची को थाना कोतवाली पुलिस टीम ने किया सकुशल बरामद, आरोपी ऑटो चालक व 2 महिला आरोपी गिरफ्तार

0
215

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : थाना कोतवाली पुलिस ने बेहतरीन कार्य करते हुए 5 वर्ष पूर्व अपहरण हुई 3 माह की बच्ची के केस का खुलासा करते हुए बच्ची को बरामद कर दो महिलाओं सहित एक आरोपी पुरुष को गिरफ्तार किया है।

प्रबंधक थाना कोतवाली उप निरीक्षक महेन्द्र सिंह ने बताया कि घटना 04 जून 2016 की है एक महिला निवासी गौरखपुर उत्तर प्रदेश हाल झुग्गी ओल्ड रेलवे स्टेशन फरीदाबाद ने अपनी 3 माह की बच्ची के अपहरण की शिकायत दी थी जिसपर अपहरण की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर बच्ची की तलाश शुरु कर दी थी। इस मामले को सुलझाने में पुलिस काफी दिनों से कोशिश कर रही थी।

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि थाना कोतवाली पुलिस टीम को बच्ची के बारे में दिनांक 20 अक्टूबर 2021 को गुप्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई जिस पर तुरन्त कार्रवाई करते हुए एक पुलिस टीम नियुक्त कर आरोपी उधम सिंह को उंचा गांव से बाल काटने की दुकान से काबू किया गया। पूछताछ करने पर उसने बताया कि उसने एक बच्ची को वर्ष 2016 में रेखा और उसकी बहन कोमल के साथ झुग्गी ओल्ड रेलवे स्टेशन फरीदाबाद से उठाया था।

आरोपी उधम सिंह को अदालत में पेश कर एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया था। आरोपी ने महिला साथी का पता दिल्ली मटियाला का बताया जिसपर कार्रवाई करते हुए दोनो आरोपी महिलाओं रेखा और कोमल को दिल्ली से गिरफ्तार कर बच्ची को सुरक्षित बरामद कर लिया गया। बच्ची की अब उम्र 5.5 वर्ष हो गई है। जिस वक्त बच्ची का अपहरण हुआ उस वक्त बच्ची की उम्र 3 माह थी।

पूछताछ के दौरान आरोपी महिला रेखा ने बताया कि उसकी शादी को 14 वर्ष होने पर भी उसको कोई बच्चा नही है। रेखा ने किसी बच्चा गोद लेने का प्रयास किया , जिसके लिये काफी पैसो की आवश्यकता थी। कही से बच्चा लेने के लिए अपनी बहन कोमल को बताया कि उसके लिए किसी बच्चे का इंतजाम करो। आरोपी कोमल ने यह काम जानकार उधम सिंह को सौंप दिया जो कि एक ऑटो चालक है। जिन्होंने योजना बनाकर उक्त महिला को बच्ची को कपड़े दिलाने के बहाने से मार्केट में ले गए गए और महिला को चकमा देकर बच्ची को लेकर फरार हो गए । तीनों ने मिलकर बच्ची का अपहरण की घटनाओं को अंजाम दिया था।

पुलिस टीम ने बच्ची को बाल कल्याण समिति सेक्टर-30 फरीदाबाद में छोडा है। कानुनी कार्रवाई के बाद बच्ची को परिजनों के हवाले किया जाएगा। तीनो आरोपियों को आज पेश अदालत कर जेल भेजा।