कुमारी सैलजा पर हमले के पीछे भाजपा का हाथ : नीरज शर्मा

0
448
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : एनआइटी फरीदाबाद से कांग्रेस के विधायक नीरज शर्मा का कहना है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा पर हमले के पीछे भाजपा की सोची-समझी रणनीति है। शर्मा ने मांग की है कि कुमारी सैलजा पर हमला करने वाले भाजपा समर्थित पार्षद जयवीर खटाना और कुछ असामाजिक
पर पुलिस को तत्परता से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। मालुम हो कि गुरुवार सायं प्रदेश कांग्रेसाध्यक्ष कुमारी सैलजा प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल और अन्य कांग्रेस नेताओं के साथ निकिता तोमर के शोकाकुल परिजनों को सांत्वना देने उनके निवास पर गईं थीं। बेटी निकिता तोमर की बल्लभगढ़ अग्रवाल कॉलेज के समक्ष असामाजिक तत्वों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। कुमारी सैलजा ने बेटी निकिता के हत्यारों को जल्द से जल्द सख्त सजा दिलवाने की मांग की थी। इसके बाद जब कुमारी सैलजा शोकाकुल परिवार से मिलकर वापस लौट रही थीं तो भाजपा समर्थित पार्षद जयवीर खटाना ने अपने कुछ साथियों के साथ न सिर्फ कुमारी सैलजा के साथ दुर्व्यवहार किया बल्कि ऐसी नारेबाजी भी की जो एक दलित महिला के सम्मान को ठेस पहुंचाने वाली हैं। भाजपा समर्थित यह पार्षद नारी का सम्मान ही नहीं जानता अन्यथा शास्त्रों में भी लिखा है कि यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता यानी जहां नारी का सम्मान होता है वहां देवता वास करते हैं। पार्षद व उसके साथियों ने इतना उग्र प्रदर्शन कुमारी सैलजा के खिलाफ किया कि वहां से प्रदेश कांग्रेसाध्यक्ष को जान बचाकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ निकलना पड़ा। यदि कांग्रेस कार्यकर्ता कुमारी सैलजा का सही समय पर बचाव नहीं करते तो असामाजिक तत्व उनकी हत्या के इरादे से वहां पहुंचे थे।
अब पुलिस ने बेशक इस मामले में एफआइआर दर्ज की है मगर कांग्रेस की मांग है कि भाजपा की इस सोची समझी और गलत भावना के साथ की गई कार्रवाई में शामिल असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई हो। सच तो यह है कि भाजपा ने निकिता तोमर हत्याकांड में अपनी नाकामी छुपाने के लिए कुमारी सैलजा के साथ यह प्रकरण कराया। अन्यथा शासन-प्रशासन को पहले बल्लभगढ़ के थाना प्रभारी, एसीपी, डीसीपी के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई करनी चाहिए थी। भाजपा को यह भी आत्मविश्लेषण करना चाहिए कि उनकी दुर्गा शक्ति एप और महिला थाना बनाने की कार्रवाई कितनी कारगर साबित हुई हैं। नीरज शर्मा ने कहा कि कुमारी सैलजा एक दलित की बेटी हैं और एक दलित की बेटी जो राष्ट्रीय दल की प्रदेशाध्यक्ष हैं, को पूरी सुरक्षा मिलनी चाहिए।