गुरुद्वारा श्री गुरु दरबार साहिब में पंजाबी सेवादल द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर

0
301
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 13 जून। उपायुक्त यशपाल ने कहा है कि कोरोना आपदा काल में फरीदाबाद के सिख समुदाय एवं सामाजिक संगठनों ने जिस प्रकार सेवा व समर्पण का परिचय दिया है, वह सराहनीय है।
यहां गुरुद्वारा श्री गुरु दरबार साहिब में पंजाबी सेवादल फरीदाबाद (रजि) द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार व्यक्त करते हुए उपायुक्त यशपाल ने कहा कि सेवाभाव से जो लोग रक्तदान हेतु एकत्रित हुए हैं, वह सराहनीय है।
पंजाबी सेवादल के चेयरमैन व सरब गुरुद्वारा कमेटी के महासचिव रविंद्र सिंह राणा ने सभी आगंतुकों का स्वागत करते हुए कहा कि सिख समुदाय सेवा के लिए सदैव आगे रहा है। आपने कहा कि बात रक्त की हो या ऑक्सीजन की लंगर की हो या प्रकृति सेवा की, सिख वर्ग ने गुरु नानक देव जी महाराज की शिक्षा के अनुरूप समाज को अपना योगदान दिया। आपने इस कार्य के लिए फरीदाबाद के सभी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटियों का आभार भी व्यक्त किया।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि फरीदाबाद बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान संजीव चौधरी ने रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं है, इसके लिए सभी रक्तदाता बधाई के पात्र हैं।
पंजाबी सेवा दल के महासचिव एडवोकेट नरेंद्र सिंह कंग ने आगंतुकों का स्वागत करते हुए कहा कि रक्तदान शिविर की सफलता का वास्तविक श्रेय रक्तदाताओं एवं पंजाबी सेवा दल की टीम को जाता है, जो सेवा के एक आह्वान पर एकजुट होकर खड़े हुए।
रक्तदान शिविर में 153 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। पंजाबी सेवा दल द्वारा रोटरी ब्लड बैंक की टीम विशेषकर वाइस चेयरमैन श्री दीपक प्रसाद, बादशाह खान अस्पताल की टीम व रक्तदाताओं का भी आभार व्यक्त किया गया, जिन की सक्रियता के चलते रिकॉर्ड रक्त एकत्रित हो सका।
इस अवसर पर सरदारनी राणा भट्टी, पंजाबी सेवा दल के प्रधान सरबजीत सिंह, फरीदाबाद बार एसोसिएशन के प्रधान बाबी रावत सहित गुरमीत सिंह, गुरविंदर सिंह, नवजीत सिंह, अमरजीत सिंह, बग्गा जी, सर्वजीत सिंह, जसविंदर सिंह, जोगिंदर सिंह, गुरमीत सिंह, कुलवंत सिंह, इंदर सिंह, आत्मा सिंह, बलजीत सिंह, सतपाल सिंह, राजू सोडी, अमरजीत वालिया, जगमोहन सिंह, मनजीत सिंह, हरीश गुलाटी, बलजीत सिंह, सुरेंद्र सिंह, चरणजीत सिंह, रविंद्र सिंह, ज्योति सिंह, बब्बू, दीपू, जसपाल सिंह पिंटू, मोहन सिंह भाटिया, राधेश्याम भाटिया, हरजीत सिंह, हरबंस सिंह काला, बरकत सिंह, इंदरजीत राजा, गुरप्रीत गोल्डी, हरबंस सेठी, हरेंद्र माटा, मनप्रीत सिंह, फकीर सिंह, तेजेंद्र सिंह, प्रितपाल सिंह, गुरचरण सिंह, मनजीत सिंह, चरणजीत सिंह चन्नी, जसविंदर सिंह, मक्खन सिंह, विजय बब्बर, रणजीत सिंह, जसविंदर सिंह, गुरविंदर सिंह, विकास मेहरा, सचिन ग्रोवर, सन्नी, जसविंदर सिंह, अमरीक सिंह, जालोर सिंह, काला सिंह सलूजा, विजय मेहरा, डीपी सिंह, हरभजन सिंह, प्रवीण कुमार, चरणदीप सिंह, दलजीत सिंह, हरमीत सिंह, भूपेंद्र सिंह, गुरमीत सिंह, हरप्रीत सिंह, रिंकू, दलजीत सिंह, रंजीत सिंह राणा सहित विभिन्न गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी से जुड़े लोगों की उपस्थिति विशेष रूप से उल्लेखनीय रही।