जिला प्रशासन द्वारा परिवार पहचान पत्र बनाने का कैम्प लगाए गए

0
634
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 5 दिसम्बर। उपायुक्त यशपाल के दिशा निर्देशों पर जिला के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों मे दर्जनो स्थनों शनिवार और रविवार को निर्धारित स्थानों पर कैम्प लगाकर लोगों के परिवार पहचान पत्र बनाने का कार्य जिला प्रशासन द्वारा जनप्रतिनिधियों के सहयोग से निरन्तर किया जा रहा है। आज शनिवार को जिला मे अतिरिक्त उपायुक्त कम परिवार पहचान पत्र बनाने के नोडल अधिकारी सतबीर मान के मार्ग दर्शन मे जिला के तीनों फरीदाबाद, बड़खल तथा बल्लभगढ़ उपमडंलो के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में परिवार पहचान बनाने का काम निरन्तर किया जा रहा है।
परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए उपमडंल स्तर पर उपमडंल (नागरिक) अधिकारी को यह दायित्व सौंपा गया है।जिला में दो दिवसीय कैम्पों के लिए शहरी क्षेत्रों में तहसीलदार  को और ग्रामीण क्षेत्रों में बीडीपीओ को इन कैम्पो का प्रशासनिक इन्चार्ज बनाया गया है।
एडीसी सतबीर मान ने बताया कि जिला में प्रशासन द्वारा शहरी क्षेत्रों और ग्रामीण क्षेत्रों में शनिवार को प्रातः 10:00 बजे प्रशासन द्वारा अलग अलग प्रस्तावित जगहों पर शहर में सम्बन्धित वार्ड पार्षदो और गावों मे सरपंचों के सहयोग से आम जन के लिए परिवार पहचान पत्र बनाने के कार्य किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि जिला में शनिवार और रविवार को प्रशासन द्वारा लोगों के परिवार पहचान पत्र बनाने में जनप्रतिनिधियो का सहयोग लिया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि आज शनिवार को शहरी क्षेत्रों के सम्बन्धित वार्ड पार्षदो तथा ग्रामीण क्षेत्रों में सरपंचों के सहयोग से सरकार द्वारा जारी हिदायतो के अनुसार हजारों लोगों की आई डी प्रुफ परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए आन लाईन किए गए। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार भविष्य में परिवार पहचान पत्र बनाने के बाद सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ,बुढापा पैंशन सहित अन्य सभी सरकारी लाभ लोगों को इसी के माध्यम से मिलेंगे।
एडीसी ने बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए परिवार की दो आईडी और आधार कार्ड व आय कर दाता हो तो उसका पैन कार्ड होना अनिवार्य है।
उन्होंने बताया कि शनिवार को परिवार पहचान पत्र बनाने के जरूरी कागजात आनॅ लाइन अपलोड किए गए। उन्होंने आगे बताया कि रविवार को आम जन के परिवार पहचान पत्र बनाने का पीपीपी मोड पर किया जाएगा।