जब सब मिलकर लड़ेंगे, तभी कोरोना को हराया जा सकेगा : डा सुशील गुप्ता

0
313

New Delhi Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 8 मई। कोविड लॉकडाउन बावजूद हरियाणा में मरीजों की संख्या घटने का नाम नहीं ले रही है। सरकार ने लॉकडाउन के दौरान जरूरत का सामान लोगों को घर पर ही मिल सके, इसके लिए उसके पास कोई योजना नही ंहै। जब सब मिलकर लड़ेंगे, तभी कोरोना को हराया जा सकेगा। यह कहना हरियाणा सहप्रभारी आम आदमी पार्टी के सांसद डा सुशील गुप्ता का।
उन्होंने हरियाणा प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर यह तो कहते है कि लाॅकडाउन में प्रत्येक व्यक्ति को जरूरत का सभी सामान घरों में मिलेगा। लेकिन यह नहीं बताते कि यह मिलेगा कैसे!
हरियाणा सेह प्रभारी डा सुशील गुप्ता ने कहा कि इसके लिए कोई योजना सरकार के पास नहीं है। वह केवल और केवल लोगों को भ्रम में डाल कर अपना पल्ला झाड रही है। बेहतर होता अगर प्रदेश में वालंटियर्स का मूवमेंट पास बनाए और उनको गांव-गांव भेजकर जीवन की जरूरतों का सामान लोगों तक पहुंचाए। जिसमें रोजाना की आवश्यक चीजें शामिल है।
उन्होंने प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से तत्काल प्रभाव से आमजन को घर पर ही जरूरत की चीजें मुहैया करवाने को कहा। जिसमें आम व्यक्ति की जरूरत की सभी वस्तुओं की सप्लाई जाए। इसके लिए प्रत्येक गांव से चुनिंदा लोगों को वालंटियर क मूवमेंट पास दिया जाए। जिससे वह घर-घर राशन वितरित कर सकें।
उन्होंने मुख्यमंत्री ने ऑक्सीजन की आपूर्ति,सिलेंडर की रीफिलिंग व स्टोरेज की कठिनाई के कारण बनी समस्या को भी जल्द दूर करने को कहा। इसके लिए जिला स्तर पर ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए अधिक से अधिक  रीफिलिंग प्वाइंट बनाए जाए। वहीं किसी भी जिले में ऑक्सीजन की किल्लत न हो, इसको लेकर जिला उपायुक्तों को निर्देश दें।
उन्होंने कोरोना संक्रमितों की बढ़ती तादाद को देखते हुए प्रदेश सरकार से बेडों की संख्या को ओर बढ़ाने का अनुरोध भी किया। गुप्ता ने  कहा कि पंचकूला, करनाल, नूंह मेडिकल, बहादुरगढ, भिवानी, झज्जर, हिसार, गुरूग्राम, फरीदाबाद, पलवल, जींद सहित गांवों में अधिक ध्यान दें, ताकि महामारी गांवों को अपना गढ ना बना पाए।
उन्होंने लोगों से भी अनुरोध करते हुए कहा कि वह डाॅक्टरों के दिए गए निर्देशों को पालन करें तथा, माक्स, सेनिटाइजर, साबुन से हाथ धोते रहे, दो गज की दूरी का पालन करें। वहीं जरूरी हो तो घर से निकले नहीं तो बाहर जाने से परहेज ही  रखे।
उन्होंने अपील की जब सब मिलकर लड़ेंगे, तभी कोरोना को हराया जा सकेगा। कोरोना काल में सबका सेवा भाव होना चाहिए और गरीब व्यक्ति की मदद करनी चाहिए। कोरोना को लेकर डर नहीं बैठाना है बल्कि पाजिटिव तरीके से उसे हराने के लिए काम करना है।