रॉड से युवक व उसके परिवार पर हमला कर घायल करने के मामले में क्राइम ब्रांच ने दो अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार, 3 को पहले ही भेजा जा चुका है जेल, शेष 5 को जल्द किया जाएगा गिरफ्तार

0
192
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : कई बार छोटी-मोटी बात से शुरू हुआ झगड़ा कब आपसी रंजिश में तब्दील हो जाता है इसका अंदाजा तब लगता है जब एक पक्ष गंभीर रूप से घायल हो जाता है और दूसरा पक्ष सलाखों के पीछे पहुंच जाता है।
ऐसे ही एक घटना फरीदाबाद के गांव डीग की है जहां पर नाली सफाई को लेकर शुरू हुआ झगड़ा दो परिवारों के बीच में रंजीश का कारण बन गया।
वर्ष 2019 में डीग गांव के सुरेश और नंदकिशोर के परिवार के बीच नाली सफाई कि किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया जिसमें नंदकिशोर ने अपने 9 साथियों के साथ मिलकर सुरेश व उसके परिजनों पर हमला कर दिया तथा उन्हें गंभीर चोटें पहुंचाई।
इस मामले को लेकर पीड़ित पक्ष पुलिस के पास पहुंचा जहां पर नंदकिशोर व उसके अन्य साथियों के खिलाफ मारपीट व लड़ाई-झगड़े की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।
इसके पश्चात अप्रैल 2021 में पीड़ित पक्ष के घर में फंक्शन चल रहा था जहां पर आरोपियों ने पीड़ित परिवार द्वारा उनके खिलाफ दर्ज मुकदमे को वापिस लेने का दबाव बनाने के लिए पीड़ित पक्ष पर फिर से हमला कर दिया और लाठी-डंडे तथा रॉड से वार करके उन्हें घायल कर दिया।
पीड़ित पक्ष ने फिर से इसकी शिकायत थाना सदर बल्लभगढ़ में दी जिसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ एक ओर मुकदमा दर्ज किया गया।
एक मुकदमा ओर दर्ज होने के बाद आरोपियों को और ज्यादा गुस्सा आ गया और उन्होंने 1 सप्ताह बाद पीड़ित सुरेश के भाई नेकपाल को रास्ते पर अकेला जाते देखकर उस पर हमला कर दिया जिसमें आरोपियों ने पीड़ित के दोनों पैरों और सिर पर रोड से वार किया जिसमें उसे गंभीर चोट आई।
आरोपियों ने नेकपाल को घायल करके उसके पास जेब में रखे ₹4000 भी छीन लिए तथा उसे जान से मारने की धमकी देकर वहां से फरार हो गए।
पीड़ित पक्ष ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ एक और मुकदमा दर्ज करवा दिया।
इस मामले में 10 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है जिसमें नंदकिशोर, प्रताप, दीपक, संजीव, रवि, गोलू, पृथ्वी, अभिषेक, रोहित, सोनू तथा साहिल का नाम शामिल है।
पुलिस ने मामले में संज्ञान लेते हुए जांच शुरू कर दी और दो आरोपियों संजीव तथा रवि को 31 मई को गिरफ्तार कर लिया।
इसके पश्चात क्राइम ब्रांच ने 17 जुलाई को आरोपी प्रताप तथा 19 जुलाई को आरोपी नंदकिशोर तथा दीपक को गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस इस मामले में फरार चल रहे पांच अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।