क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर ने चोरी के 4 अलग-अलग मामलों में 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

0
190
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर की टीम ने चोरी के 4 अलग-अलग मामलों में 4 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।
गिरफ्तार आरोपी
1. सोनू उर्फ मोटा निवासी जगदंबा कॉलोनी दिल्ली।
2. मनीष पुत्र लक्ष्मण निवासी बेगूसराय बिहार।
3. हेमंत पुत्र स्वर्गीय धर्मवीर जिला मथुरा यूपी हाल निवासी संजय कॉलोनी फरीदाबाद।
4. पवन पुत्र सुखबीर निवासी पलवल।
प्रभारी क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर ने जानकारी देते हुए बताया कि चारों आरोपियों को अलग-अलग थाना की चोरी के मामले में गिरफ्तार किया गया है।
आरोपी सोनू उर्फ मोटा को थाना सराय ख्वाजा की चोरी के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार किया है आरोपी से उपरोक्त मामले में चोरी की गई एक साइकिल रेंजर बरामद की गई है।
पूछताछ पर सामने आया कि आरोपी नशे का आदी है आरोपी छोटी चोरी करने का आदतन चोर है।
आरोपी मनीष पुत्र लक्ष्मण को पुलिस ने थाना सूरजकुंड के चोरी के एक मुकदमें में गिरफ्तार किया है।
आरोपी ने उपरोक्त मुकदमे में एक साइकिल रेंजर चोरी की थी। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वह नशा करने का आदी है गलत संगत में पड़ने के कारण चोरी करने लग गया था।
आरोपी हेमंत को पुलिस ने थाना आदर्श नगर के चोरी के एक मामले में गिरफ्तार किया है।
आरोपी ने उपरोक्त मुकदमे में एक बड़ी एलईडी लाइट चोरी की थी। इस मामले को सुलझाते हुए पुलिस ने आरोपी से ₹2600 रुपए कैश बरामद किए है। आरोपी पहले चाय के खोखे पर काम करता था।
क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर की टीम ने आरोपी पवन को थाना सारण के चोरी के एक मामले में गिरफ्तार किया है।
आरोपी ने मोटरसाइकिल और मोबाइल फोन चोरी की वारदात को अंजाम दिया था जिस पर आरोपी के खिलाफ मामला थाना सारण में दर्ज किया गया था।
आरोपी से वारदात में चोरी मोटरसाइकिल और मोबाइल फोन बरामद कर लिया है। पूछताछ पर सामने आया कि आरोपी लेबर का काम करता है और नशे की जरूरत को पूरा करने के लिए वारदात को अंजाम देता है।
प्रभारी क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस ने आरोपी सोनू से एक रेंजर साइकिल, आरोपी मनीष से एक रेंजर साइकिल, आरोपी हेमंत से ₹2600 रुपए कैश और आरोपी पवन से एक मोटरसाइकिल और एक मोबाइल फोन बरामद कर आज चारों आरोपियों को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है।