किसान आन्दोलन देश के खिलाफ कांग्रेसी नेताओं की साजिश: पंकज सिंगला

0
135

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 15 सितम्बर। पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के किसान आंदोलन पर दिए बयान के विरोध में भारतीय जनता पार्टी फरीदाबाद के युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष पंकज सिंगला और किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष सुखबीर मलेरना के नेतृत्व में युवा व किसान मोर्चा के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने आज अम्बेडकर चौक बल्लभगढ़ में राहुल गाँधी और कैप्‍टन अमरिंदर सिंह का पुतला फूंककर अपना विरोध दर्ज करवाया। भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष सुखबीर मलेरना ने उस अलोकतांत्रिक एवं गैरजिम्मेदाराना बयान की घोर भर्त्सना की, जिसमे कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने  किसान संगठनों से कहा कि वे अपना आंदोलन हरियाणा और दिल्‍ली में करें। कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के बयान से साफ हो गया है कि यह पूरा आंदोलन कांग्रेस और उनके नेताओं द्वारा प्रायोजित है। कांग्रेस के कार्यकर्त्ता आन्दोलन को संचालित कर रहे हैं। कांग्रेसी नेताओं राहुल गाँधी, कैप्टन अमरिंदर सिंह आदि के किसान आंदोलन को भड़काने  वाले बयान अशोभनीय है, निंदनीय है । भाजपा कार्यकर्ताओं ने शैलजा, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा और सुरजेवाला से पूछा कि वो  हरियाणा में विकास के साथ हैं या विनाश के साथ और अपने मुख्यमंत्री कैप्टन अरविंदर सिंह के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित करें। सुखबीर मलेरना ने कैप्टन साहब को नसीहत देते हुए कहा कि राजस्थान में आपकी सरकार है किसान हित में बाजरे के भाव क्यों नहीं बढ़वा लेते।
युवा मोर्चा के ज़िला अध्यक्ष पंकज सिंगला ने अमरिंदर सिंह के इस गैरजिम्मेदाराना व अलोकतांत्रिक वक्तव्य  पर प्रश्न करते हुए पूछा  कि आन्दोलन हरियाणा में शिफ्ट करवाकर हरियाणा के विकास को रोकने की साजिश देशद्रोह नहीं है क्या …. जो आर्थिक संकट आज पंजाब में पैदा होने की बात कर रहे हो, क्या वो संकट दिल्ली और हरियाणा में करना चाहते हैं आप..…. कैप्टन साहब आपको और आपकी पार्टी को पंजाब की चिंता है, दिल्ली और हरियाणा की नहीं…  पंजाब के सीएम कह रहे हैं कि सभी व्यवधान हरियाणा और दिल्ली में किए जाने चाहिए। ये शब्द लोकतांत्रिक रूप से चुने गए सीएम को शोभा नहीं देते। मुख्य मार्गों को अवरुद्ध करके जनमानस को तकलीफ देना, व्यापार का नुक्सान करना, यह कतई आन्दोलन नहीं है। कांग्रेस नेताओं द्वारा हरियाणा में अस्थिरता का माहौल कर देश की शांति को भंग करने की यह एक गहरी साजिश है।
पंकज सिंगला ने कहा कि किसान आंदोलन को लेकर भारतीय जनता पार्टी और भाजपा नेता पहले दिन से कह रहे हैं कि ये आंदोलन किसानों का कम और सियासी दलों का ज्यादा है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा बनाये गए तीनों कृषि कानूनों से किसान सशक्त और मजबूत हो रहा है और किसान की आय बढ़ रही है। एक देश एक मंडी की व्यवस्था से फसल का अधिक मूल्य मिल रहा है। हरियाणा में 10 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य, गन्ने का भाव, किसानों को इन्सेन्टिव सबसे ज्यादा मिल रहा है। अपने इस कुकृत्य के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस के नेताओं को देश से माफ़ी मांगनी चाहिए और अपनी ओछी राजनीति करने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह को तुरंत पंजाब के मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र देना चाहिए।
इस प्रदर्शन में किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष सुखबीर मलेरना, भाजयुमो जिला अध्यक्ष पंकज सिंगला, भाजयुमो जिला महामंत्री सचिन ठाकुर, गोल्डी अरोड़ा, भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष ज्ञानेंद्र भारद्वाज, सुरेंद्र नटनागर, मोहित नागर, किसान मोर्चा जिला उपाध्यक्ष अरुण द्विवेदी, जिला सचिव सुरेंद्र हुड्डा व रामचरण यादव, भाजयुमो जिला सचिव कार्तिक वशिष्ट, मनीष यादव, किसान मोर्चा कोषाध्यक्ष हितेश पालटा, मीडिया प्रमुख  नीरज दत्त, भाजयुमो जिला कार्यकारिणी सदस्य राज सिंह राजपूत लक्ष्य, विकास शर्मा, अशोक गेरा, भाजयुमो के मंडल अध्यक्ष कपिल दिक्षित, जगबीर शर्मा, सनी कुमार मंडल महामंत्री प्रियांशु शर्मा, अमनदीप, किसान मोर्चा  मंडल अध्यक्ष जितेंद्र बंसल, शैलेंद्र तिवारी, कन्हैया पाल व भाजयुमो और किसान मोर्चा के जिला व मंडल कार्यकर्ता उपस्थित रहे।