जरूरतमंद परिवारों व प्रवासी लोगों को नियमित रूप से दोनों समय भोजन दिया जा रहा है : उपायुक्त यशपाल

0
392

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 7 अप्रैल। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान जिला में जरूरतमंद परिवारों व प्रवासी लोगों को नियमित रूप से दोनों समय का भोजन दिया जा रहा है। शहर के सभी 40 वार्डों में अधिकारियों, पार्षदों व वालिंटियर के सहयोग से जरूरतमंद परिवारों की तैयार सूची वाले लोगों को पके भोजन के पैकेट वितरित किये जा रहें हैं। इसके अलावा जिला प्रशासन द्वारा जरूरतमंद परिवारों को खाद्य सामग्री भी प्रतिदिन वितरित की जा रही है, जिसमें आटा, दाल, चावल, तेल व मसाले आदि शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि रेडक्रास द्वारा अब तक 16 हजार 500 फूड पैकेट्स वितरित किए गए हैं। इसी प्रकार एनजीओ की ओर से अब तक 4 लाख एक हजार 780 पके भोजन के पैकेट वितरित किए गए हैं। इसी प्रकार अब तक 11 हजार 556 परिवारों को सूखा राशन दिया गया है। उन्होंने बताया कि लॉक डाउन की स्थिति से निपटने के लिए जिला प्रशासन द्वारा कारगर योजना तैयार करके हर जरूरतमंद व्यक्ति की मदद की जा रही हैं। इसके लिए सभी वार्डों मे एक-एक अधिकारी की डयूटी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि जिला में बनाए गए रिलीफ सेंटरों में 224 व्यक्ति ठहरे हुए हैं, जिन्हें सुबह का नाश्ता, दोपहर और शाम का भोजन दिया जा रहा है। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जन वितरण प्रणाली के तहत डिपो होल्डर द्वारा भी राशन वितरण किया जा रहा है। उपमंडल फरीदाबाद के एसडीएम अमित कुमार, बङखल के एसडीएम पंकज सेतिया और बल्लभगढ़ के एसडीएम त्रिलोक चंद सहित खाद्य आपूर्ति नियंत्रण विभाग के अधिकारियों को जनवितरण प्रणाली के तहत चैकिंग की जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने बताया कि प्रशासन द्वारा खाद्य सामग्री के पैकेट तैयार करवाए जा रहे हैं, पैकिंग का काम जारी है। सभी वार्डों में राशन भिजवाया जा रहा है।