पूर्व विधायक ने विकास कार्याे झूठा श्रेय लूटने पर विधायक को जमकर लताड़ा

0
190

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : भाजपा-जजपा की सरकार जनहित की सरकार है और जनहित का फैसले लेते हुए हरियाणा सरकार ने पहले एयरफोर्स 100 मीटर के दायरे में रजिस्ट्रियों को खोला और अब यहां बिजली कनेक्शन देने की भी शुरूआत की है और यह सब मुख्यमंत्री मनोहर लाल के आर्शीवाद और केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के प्रयासों से संभव हो पाया है, लेकिन कांग्रेस के विधायक नीरज शर्मा इस मुद्दे का झूठा श्रेय लूटकर अपने आपको महिमा मंडित करने में जुटे है, लेकिन क्षेत्र की जनता को पता है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाला शर्मा परिवार किस कद्र भ्रष्टाचार में लिप्त है। उक्त वक्तव्य एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं वरिष्ठ भाजपा नेता नगेंद्र भड़ाना ने यहां जारी प्रेस बयान में व्यक्त किए।उन्होंने कहा कि 4 अप्रैल, 2012 जब एयरफोर्स के सौ मीटर में निर्माण तोडऩे की नोटिफिकेशन हुई थी, उन्होंने कहा कि जब एयरफोर्स सौ मीटर का मामला उठा था, उस दौरान स्व. शिवचरण लाल शर्मा राज्यमंत्री थे और उन्होंने इस मामले में लोगों की कोई पैरवी नहीं की, लेकिन उन्होंने सौ मीटर बचाओ संघर्ष समिति बनाकर हजारों लोगों के साथ न केवल निगम मुख्यालय पर प्रदर्शन किया बल्कि हस्ताक्षर अभियान चलाकर सरकार तक लोगों की बात को पहुंचाया और जब वह एनआईटी क्षेत्र से विधायक चुने गए, सर्वप्रथम उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल सहित संबंधित केंद्रीय मंत्रियों तक इस मुद्दे को रखा, नतीजतन आज लोगों के ऊपर से सौ मीटर की तलवार हट गई। लेकिन विधायक नीरज शर्मा ने अपने बयान में कहा कि 2015 में उनकी सरकार में नोटिफिकेशन हुआ था। उन्होंने कहा कि 2015 में केंद्र व हरियाणा में भाजपा की सरकार थी और इस सरकार ने ही लोगों को राहत प्रदान की। हाल ही पूर्व पार्षद महेश मणि के डबुआ कालोनी स्थित निवास पर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का भी एयरफोर्स मामले में महेश मणि के नेतृत्व में लोगों को राहत दिलाने पर धन्यवाद किया गया और तिगांव में आयोजित मुख्यमंत्री मनोहर लाल की रैली में भी उन्होंने मांगपत्र सौंपकर एयरफोर्स परिधि में आने वाले क्षेत्रों में विकास कार्य करवाने की मांग रखी थी, जिसे मुख्यमंत्री ने संबंधित विभागों को भेज दिया और अब विकास कार्य चल रहे है, लेकिन क्षेत्र के विकास को विधायक नीरज शर्मा पचा नहीं पा रहे इसलिए झूठी वाहवाही लूटकर लोगों को गुमराह कर रहे है।