मुख्यमंत्री मनोहर लाल की विडियों कान्फ्रेंस के जरिए दी हरियाणा दिवस के मौके पर सौगात: एडीसी सतबीर मान

0
192

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 01 नवम्बर। अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान ने कहा कि हरियाणा दिवस पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल कर कॉन्फ्रेंस के जरिये लोगों को सौगात दी है।

उन्होंने बताया कि कॉन्फ्रेंस में सभी कैबिनेट मंत्री भी मौजूद रहे। एडीसी ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस के मुख्य अंश इस प्रकार रहे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सरकार के 7 साल का लेखा-जोखा पेश किया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा दिवस पर प्रदेशवासियों दीपावली की अग्रीम बधाई भी दी। उन्होंने बताया कि 31 अक्टूबर को हमने राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 3 दिन पहले हमारी सरकार के 7 साल पूरे हुए हैं। सरदार वल्लभभाई पटेल ने देश को एक करने का काम किया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि 7 सालों में 105 महाविद्यालयों की संख्या बढाकर 135 की है। हरियाणा के विकास के लिए लक्ष्य निर्धारित किए हैं। हरियाणा की विकास यात्रा अच्छी रही है। हरियाणा के बनने के बाद लोगों ने काफी अफवाहें फैलाई थी। हमने हर भ्रम को दूर किया आज हरियाणा में हर स्तर का विकास हुआ है। हरियाणा में बीजेपी की योजनाओं ने जमीनी स्तर पर विकास किया है।

बिजली, पानी सहित हर प्रकार की सुविधाएं हरियाणा में लोगों को दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने हर खेत में पानी पहुंचाया है। हमने लोकतंत्र को मजबूत किया है। आज हरियाणा अलग-अलग सेक्टर में नंबर वन पर पहुंचा है।

ऑफिस से रिफॉर्म करने का काम शुरू किया गया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हमने भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति बनाई कर उसका क्रियान्वयन किया है। पारदर्शी सरकार के तहत ई गवर्नेंस की शुरुआत की गई है। प्रदेश में 7 साल में गांव में खुशीयां आई हैं।

पढ़े-लिखे लोगों के लिए सक्षम योजना चलाई जा रही हैं। कृषि हित में बढ़ोतरी के लिए कई काम कर रहे हैं। हमने हरियाणा में पानी की समस्या को दूर किया है।

ग्रुप सी और डी का कोई इंटरव्यू नहीं होगा। पेपर लीक की समस्या को दूर करने के लिए हमारी सरकार ने काम किया है। हमें पर्यावरण को सुरक्षित रखना चाहिए। स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आज राज्य का जीडीपी 764000 करोड़ है। हर गांव में बिजली देने का लक्ष्य पूरा करने के नजदीक पहुंच गए हैं। प्रदेश के 5500 ज्यादा गांव में 24 घण्टे बिजली देने का काम किया है। महिलाओं के उत्थान के लिए परियोजनाएं शुरू की गई है। सालाना एक लाख रुपये से कम आए वाले परिवारों के लिए काम कर रहे हैं। हमने हर समस्या को दूर करने के लिए गहन कदम उठाए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि 7 सालों में हमारी सरकार ने तेजी से विकास के काम किए है।

प्रदेश के 95 प्रतिशत गांवों में हर घर में नल से जल पहुंचाया जा रहा है। प्रदेश में पहले विश्वविद्यालय 45 थे। जबकि अब 56 हो गए है।

प्रदेश में डॉक्टरों की कमी को दूर करने के लिए कारगर कदम उठाए है। पंचायतों को पढ़ा-लिखा बनाने का काम किया है। महिलाओं को 50 प्रतिश पंचायतों में प्रतिनिधित्व दिया जाएगा। राइट टू रिकॉल का अधिकार भी दिया है। प्रदेश में खाद्यान्न का उत्पादन 189 लाख मिट्रीक टन तक पहुंचाने का काम किया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पानी के संरक्षण के लिए काम किया जा रहा है। प्रदेश में 67 नए महिला कॉलेज बनाए गए हैं।

किसानों को पेड़ लगाने के लिए सरकार आर्थिक मदद देगी। हमने हरियाणा के लिए कौशल रोजगार नियम पोर्टल  भी बनाया है। किसान हित में सरकार ने कई अहम फैसले लिए है। पेपर लीक माफिया को जड़ से खत्म करेंगे। धान की खरीद बेहतर तरीके से चल रही है। प्रदेश में 2500 एमबीबीएस सीट उपलब्ध कराना हमारा लक्ष्य है।

वर्ष 2014 में 7 मेडिकल कॉलेज थे आज प्रदेश में 13 मेडिकल कॉलेज हो गए  है। हमने एसवाईएल का पानी लाने के प्रयास किए है। सरकारी नौकरियों में हमले मैरिट लिस्ट को लागू किया है। एसडीएम और नगराधीश के समक्ष भी जमीन की रजिस्ट्रीकरवा सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने हरियाणा दिवस के मौके पर नई परियोजनाएं लॉन्च की है:-

इनमें जल जीवन मिशन की आज से शुरुआत की गई है। प्रदेश के 600 गांव में 25 दिसंबर तक इसे पूरा करेंगे। परिवार पहचान पत्र की वेरिफिकेशन प्रक्रिया लगभग पूरी हुई। प्रदेश में 456 से ज्यादा सेवाएं इसके साथ जोड़ रहे हैं। ग्राम पंचायतों की समस्याओं को दूर करेंगे।अधिकारियों को एक-एक गांव संरक्षण के लिए देंगे। सभी सेवाएं पहचान पत्र के साथ मिलेंगी।

जमीन की रजिस्ट्री में होने वाली दिक्कतों को दूर किया जाएगा। रजिस्ट्रार और सब रजिस्ट्रार की पावर अब खत्म होगी। एसडीएम और सीटीएम को आज से  जमीन की रजिस्ट्री करने की पावर दी गई है। प्रदेश में रजिस्ट्री के लिए 92 नए दफ्तर खोले गए हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा दिवस के मौके पर 250 कैदियों की सजा माफ की है। जिनकी सजा 6 महीने से कम बची है। उनकी सजा माफ की गई है। कानून-व्यवस्था के लिए टोल फ्री डायल 112 की शुरूआत की गई है। पर्यटन के लिए पंचकूला और मोरनी को डेवलप किया जाएगा। ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए काम किए है।

प्राणवायु देवता पेंशन की शुरूआत की गई है। ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए काम किए हैं।

इस अवसर पर विडियो कान्फ्रेंस में नगराधीश पुलकित मल्होत्रा, डीडीपीओ राकेश मोर, जिला शिक्षा अधिकारी ऋतु चौधरी सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।