भाजपा फ़रीदाबाद द्वारा धूमधाम से मनाया गया अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस

0
86

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 21 जून। योग एक संस्कृत शब्द है, जिसका मतलब होता है मिलन, संयोग। केवल योग से मन, शरीर और आत्मा का मिलन होता है I योग एक प्रकार की ऊर्जा है, जो साधक को पूरी उम्र बीमारियों से बचाती है। योग एक शारीरिक क्रिया ही नहीं बल्कि योग जीवन को सही प्रकार से जीने का एक मार्ग है। यह कहना है भारतीय जनता पार्टी के ज़िला अध्यक्ष गोपाल शर्मा का I योग दिवस के उपलक्ष्य पर जिला अध्यक्ष गोपाल ने भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ योग शिविर में भाग लेकर योग शिविर का शुभारम्भ किया। फ़रीदाबाद के सभी मंडलों में योग दिवस के शुभ अवसर पर ज़िले के सभी मंडल अध्यक्षों और मोर्चों के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं द्वारा योग शिविर आयोजित किये गए । भाजपा द्वारा मंडल स्तर पर आयोजित किये शिविरों में केन्द्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, हरियाणा सरकार में मंत्री मूलचंद शर्मा, विधायक सीमा त्रिखा राजेश नागर नरेन्द्र गुप्ता, स्थानीय निकाय प्रदेश सह संयोजक देवेन्द्र चौधरी, किसान मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष सोहन पाल सिंह  भाजपा प्रदेश जिला और मंडल  पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और सैंकड़ों लोगों ने भाग लिया । अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर ज़िला अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने कहा कि देश के यशस्वी और तपस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किए गए सार्थक प्रयासों के परिणामस्वरूप 2015 पूरे विश्व के 8 अरब लोगों को योग दिवस के रूप में योग का उपहार मिला । हर साल 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में पूरे विश्व में मनाया जाता है I  योग शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ एवं निरोग रहने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है । योग के अभ्यास से दिमाग और हृदय स्वस्थ रहता है। मन प्रफुल्लित और तंदरुस्त रहता है। इसलिए योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा ज़रूर बनाएँ I योग दुनिया को भारत की ओर से दिया गया एक ऐसा अमूल्य उपहार है जो विश्व को भारत की संस्कृति के साक्षात दर्शन कराता हैं ।

योग दिवस के इस अवसर पर  ज़िला महामंत्री मूलचंद मित्तल ने योग शिविर में भाग लेकर योग लिया I  उन्होंने कहा कि  हर व्यक्ति के जीवन में स्वास्थ्य सबसे बड़ा धन होता है, जिसे हमेशा संजोकर रखना बहुत जरूरी है। योग करने से जीवन में अध्यात्म का रूझान बढ़ता है और जीवन सृजनशील बनता है। योग करने से रोगों से लड़ने के लिए प्रतिरोध क्षमता बढ़ती है जिससे रोगों से मुक्ति मिलती है कोरोना काल में कई कारणों के चलते लोग तनाव भरी जिंदगी जीने लगे हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए योग सबसे बड़ी दवा है।
जिला महामंत्री आर एन सिंह ने कहा कि स्वस्थ शरीर से ही व्यक्ति को हर कार्य करने में मन लगता है। योगा एक ऐसी कला है, जिससे व्यक्ति अपने आपको स्वस्थ रख सकता है। यहां तक कि योगा से व्यक्ति कई प्रकार के शारीरिक बीमारियों से भी उभर सकता है। व्यक्ति को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए रोजाना योग करना चाहिए।