मजदूरों की छंटनी के खिलाफ विधायक नीरज शर्मा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को दिया ज्ञापन

0
375
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : फरीदाबाद के मजदूरों के साथ नाइंसाफी हो रही है और मैं संसद से लेकर विधानसभा सदन तक उनकी लड़ाई अपनी पूरी उर्जा से लड़ूंगा। यह कहना था एनआईटी 86 के विधायक नीरज शर्मा का। श्री शर्मा मंगलवार देर रात मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल को चंडीगढ़ में इस आशय का ज्ञापन देने के बाद आज सुबह जेसीबी के गेट पर सेक्टर 58 में चल रही राम कथा में बोल रहे थे। राम कथा के 15वें दिन श्री शर्मा ने उपस्थित कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की जानकारी में लाया गया कि श्रम कानूनों का उल्लंघन कर जेसीबी ने लगभग 300 कर्मचारियों को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर उनसे इस्तीफे लिखवा लिए हैं जो बिल्कुल गैरकानूनी है।
साथ ही वीनस कंपनी ने अपने जिन 62 कर्मचारियों को कोरोना काल में मंदी का हवाला देकर निकाला है उनमें से 23 का अंगभंग कंपनी में काम करने के दौरान हो चुका है। इन कर्मचारियों की छंटनी भी गैरकानूनी है।
मुख्यमंत्री के समक्ष श्री शर्मा ने झाड़सेतली के किसानों को जेसीबी कंपनी में काम ने दिए जाने का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि किसानों की जमीन इस कंपनी को लगाने के लिए दी गई है लेकिन आज उनके बच्चों को यहां नौकरी नहीं दी जाती। जबकि उनके बच्चों को यहां नौकरी दिए जाने का प्रावधान होना चाहिए। कल इस मुद्दे पर अपने साथ विधानसभा में पैदल मार्च करने वाले साथी विधायकों गीता भुक्कल शकुंतला खटक सुरेंद्र पवार अमित सिहाग वरुण चौधरी का भी श्री शर्मा ने आभार जताया। इस समस्या के संबंध में श्री शर्मा ने मंगलवार को राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को भी ज्ञापन सौंपा। नीरज शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल को मजदूरों की इस समस्या पर सहानुभूति पूर्वक विचार करना चाहिए। इस मौके परइंस्टिट्यूट ऑफ़ पॉलीटिकल लीडरशिप से शहनवाज चौधरी भारतीय, राहुल भारतीय, अनसंकरी बाबा राम केवल, वरिष्ठ वकील कन्हैया लाल, सुरेश पंडित,केशव दत्त गौड़,इंदरपाल वर्मा, कृष्ण गोपाल मखीजा, अनीश पाल, राजकुमार कैशिक, परवीन शर्मा हेलमेट जोन, रानीष सूद, पंकज शर्मा महासचिव पर्वतीय कॉलोनी मार्किट आदि उपस्थित रहे।