दिल्ली की तर्ज पर हरियाणा के लोगों को भी मिले 24 घंटे बिजली : धर्मबीर भड़ाना

0
147

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 31 जुलाई। आम आदमी पार्टी हरियाणा के सह प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद डॉ. सुशील गुप्ता के निर्देशानुवार हरियाणा की सभी विधानसभाओं में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और दिल्ली की तर्ज पर प्रदेश की जनता को 24 घंटे बिजली देने एवं 1000 यूनिट फ्री बिजली देने की मांग की गई। एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में अध्यक्ष संतोष यादव के नेतृत्व में सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने हरियाणा की भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और बिजली बिलों के नाम पर मचाई जा रही लूट को लेकर पदर्शन किया। आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि डॉ. सुशील गुप्ता जी के दिशा-निर्देशानुसार आज फरीदाबाद की सभी 6 विधानसभाओं में प्रदर्शन किए गए हैं और लोगों को 24 घंटे बिजली देने की मांग की गई है। बडख़ल विधानसभा में तेजवंत सिंह बिट्टू की अध्यक्षता में प्रदर्शन किया गया, वहीं तिगांव में अमन गोयल, बल्लभगढ़ में लोकेश अग्रवाल एवं फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र मे सुमन वशिष्ठ के नेतृतव में प्रदर्शन किए गए। उन्होंने किसानों को तुरंत बिना शर्त ट्यूबवेल कनेक्शन देने एवं दिल्ली की तर्ज पर 200 यूनिट बिजली फ्री और 400 यूनिट तक हाफ बिल एवं 24 घंटे बिजली की आपूर्ति हरियाणा को देने की मांग की। भड़ाना ने कहा कि जब दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार अपनी जनता को 200 यूनिट बिजली फ्री और 24 घंटे बिजली की आपूर्ति कर सकती है तो हरियाणा की सरकार क्यों नहीं दे सकती। उन्होंने कहा कि पूरा हरियाणा बिजली की कमी से जूझ रहा है, लेकिन मौजूदा हरियाणा की गठबंधन सरकार बिजली की आपूर्ति कराने में नाकाम साबित हो रही है। दो दिन की बरसात ने ही समूची बिजली व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है। बिजली अधिकारी एवं कर्मचारी फोन नहीं उठाते, पूरा शहर बिजली को लेकर त्राहिमाम कर रहा है। गांवों के साथ-साथ शहरों के लोग भी लंबे-लंबे कई घंटों के कट से परेशान हैं। बिजली ना होने की कमी से जहां उद्योग जगत परेशान हैं वहीं जिले के किसान भी बहुत परेशान हैं। जिले के कई गांव में तो दो-दो दिन तक भी बिजली की आपूर्ति नहीं हो रही है। बिजली कि कमी से जिले का कोई भी वर्ग ऐसा नहीं है जो कि इस परेशानी से ना जूझ रहा हो। मगर, प्रदेश की खट्टर सरकार का प्रदेश की जनता की तरफ कोई ध्यान नहीं है। एक तरफ तो हरियाणा सरकार यह कहती है कि हमने बिजली का उत्पादन बढ़ा दिया है फिर ऐसी क्या वजह है जब वह अपने ही राज्य में बिजली की आपूर्ति पूरी तरह से नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा गया कि जब दिल्ली कि सरकार केवल 7 वर्षों में अपने लोगों को 24 घंटे बिजली मुहैया करा सकती है तो हरियाणा सरकार यह क्यों नहीं कर पाई। कयोंकि हरियाणा सरकार की नीयत नहीं है, लोगों को राहत मुहैया कराए। प्रदेश की भाजपा सरकार हर तरफ, हर मोर्चे पर नाकाम साबित हो रही है। पड़ोसी राज्य दिल्ली में आम आदमी पार्टी अपने हर उपभोक्ता को 200 यूनिट बिजली फ्री और 24 घंटे बिजली मुहैया करा रही है, बिजली की दरें भी बीजेपी शासित राज्यों से बहुत कम कर दी गई है। जब मात्र 7 वर्षों में दिल्ली सरकार सब उपलब्धियां प्राप्त कर सकती हैं तो बीजेपी शासित राज्य हरियाणा में 7 वर्ष बीत जाने के बाद ऐसा क्यों नहीं हो पा रहा है। बिजली, पानी, सीवर, शिक्षा एवं स्वास्थ्य जनता का मूलभूत अधिकार है, मगर आज सब कुछ साधन संपन्न होने के बाद भी मूलभूत ढांचा नहीं सुधर पाया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में हज़ारों किसानों ने टयूबवेल कनेक्शन के लिए कई सालों से फॉर्म भरे हुए हैं, मगर उनको अभी तक बिजली कनैकशन नहीं मिल पाए हैं। इस अवसर पर आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना, एनआईटी विधानसभा अध्यक्ष संतोष यादव, जिला उपाध्यक्ष रघबर दयाल, इन्द्रा सिंह, संगठन मंत्री हरिदत शर्मा, उपाध्यक्ष मनोहर विरमानी, राणा यादव, सचिव मनोज कुशवाहा, जनार्दन वर्मा, प्रजापति, नेमसिंह, विनोद बिहारी, चन्द्रशेखर दूबे, हरजिंदर, राजकुमार, रमेश सिंह, शिव लखन, राजेश, फूल महेश एवं देवेन्द्र चौधरी, गजराज भड़ाना, विनोद भड़ाना, श्यामबीर भड़ाना सहित सैकड़ो क्रांतिकारी साथियो के साथ उपस्थित रहे।