स्वीकार होने लगा बिना एडीसी राशि के ऑनलाइन बिजली का बिल, मंच ने इसे बताया आंशिक सफलता

0
352
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : बिना एडीसी राशि के ऑनलाइन बिजली का बिल स्वीकार न होने की शिकायत हरियाणा अभिभावक एकता मंच द्वारा मुख्यमंत्री से करने पर अब ऑनलाइन बिजली का बिल बिना एडीसी राशि के स्वीकार हो रहा है।हरियाणा अभिभावक एकता मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा व सेव फरीदाबाद के संयोजक पारस भारद्वाज ने इसे उपभोक्ताओं की आंशिक सफलता बताया है और कहा है कि सरकार जब तक एडीसी राशि को  पूरी तरह से समाप्त नहीं करती तब तक संघर्ष जारी रहेगा चाहे इसके लिए न्यायपालिका का सहारा क्यों नहीं ना पड़े।
कैलाश शर्मा ने कहा है कि जब उनके दो घरेलू बिल बिना एडीसी राशि के ऑनलाइन जमा नहीं हुए तो उन्होंने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से की उसके बाद आज वीरवार को बिजली विभाग से उनके पास मैसेज आया कि उनकी शिकायत का निपटारा कर दिया गया है और अब ऑनलाइन सिस्टम पर बिजली के बिल बिना एडीसी राशि व बिना पेनल्टी के स्वीकार किए जा रहे हैं।आप बिजली का बिल जमा करा दो। इसके बाद उन्होंने वास्तविक बिल राशि जमा करा दी है। मंच ने सभी उपभोक्ताओं से कहा है कि वे भी बिना एडीसी राशि, बिना पेनल्टी की राशि के ऑनलाइन बिजली का बिल जमा करा दें। जिन उपभोक्ताओं ने एडीसी राशि के साथ बिजली का बिल जमा करा दिया है वे बिजली विभाग के एक्शन / एसडीओ के पास लिखित एप्लीकेशन देकर उनसे वसूली गई एडीसी राशि को आगे के बिल में एडजस्ट करने के लिए एप्लीकेशन डायरी कराएं। पारस भारद्वाज कहा है बिना किसी उचित कारण के ईमानदार उपभोक्ताओं पर थोपी जा रही एसीडी की राशि को पूरी तरह से वापस लिया जाए तभी उपभोक्ताओं को स्थाई फायदा होगा।