श्री लक्ष्मी नारायण दिव्यधाम में कोरोना मुक्ति के लिए यज्ञ का आयोजन

0
187

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : श्री लक्ष्मी नारायण दिव्यधाम (श्री सिद्धदाता आश्रम) में कोरोना से मुक्ति के लिए यज्ञ का आयोजन किया और मृतकों की आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की। आज पर्यावरण दिवस होने पर लोगों को पर्यावरण सुरक्षा के लिए पौधरोपण कर जागरूक किया गया।

इस अवसर पर दिव्यधाम के अधिपति अनंतश्री विभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगद्गुरू रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने कहा कि पौधे जीवन प्रदान करने वाली प्राणवायु देते हैं। वह हमें फल, बीज, औषधि और छाया देते हैं। हमें वृक्षों की रक्षा करनी चाहिए और नए पौधे लगाकर उनकी बच्चों की तरह सेवा करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि प्रकृति का संरक्षण कर ही हम जीवन बचा सकते हैं। प्रकृति ही पर्यावरण को बचाती है। वातावरण को शुद्ध करती है।

इस अवसर पर स्वामीजी ने कोरोना रोग के कारण काल का ग्रास बनी आत्माओं की शांति, रोगियों को रोग मुक्ति और कोरोना योद्धाओं को शक्ति प्रदान करने के लिए भगवान श्रीलक्ष्मीनारायण जी से प्रार्थना यज्ञ किया। इस अवसर पर अष्टाक्षर नारायण मंत्र एवं श्री लक्ष्मी नृसिंह मंत्र के साथ आहुति दी गई। श्री गुरु महाराज ने कहा कि इस कष्टकारी समय में सभी को एकदूसरे की मदद के लिए तैयार रहना चाहिए और शासन प्रशासन के निर्देशों का पालन करना चाहिए। इसके साथ साथ भगवान के नाम का स्मरण भी करना चाहिए, यह संबल एवं कृपा प्रदान करने वाला है।

उन्होंने कहा कि हम भगवान श्री लक्ष्मी नारायण जी से प्रार्थना करते हैं कि वह समस्त जीव जगत पर अपनी करुणा कृपा करें। लेकिन हमें भी समझना चाहिए कि महामारी के समय एहतियात बरतें। शासन एवं प्रशासन के बताए निर्देशों का पालन करें। हमें भी मास्क, सेनिटाईजेसन और निश्चित दूरी को अभी मानना चाहिए। स्वामी जी ने लोगों से अपील की है कि एक दूसरे के दुख सुख में काम आएं। समय अच्छे बुरे आते जाते रहेंगे।