स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड-19 टीकाकरण शिविरों में लोग बढचढ कर रहें हैं भागीदारी : डॉ. रणदीप सिंह पुनिया

0
313

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 4 जून। सिविल सर्जन डॉ. रणदीप सिंह पुनिया ने कहा कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए टीकाकरण एक सशक्त माध्यम है। जिला फरीदाबाद की जनता को बिना किसी डर के वैक्सीनेशन करवाना चाहिए। टीकाकरण से स्वास्थ्य पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता। कोविशील्ड व कोवैक्सीन का समान प्रभाव है।

सी.एम.ओ. डॉ. रणदीप सिंह पूनिया ने बताया कि टीकाकरण करवाने के लिए अब पहले की अपेक्षा ज्यादा उत्साह जिला में देखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के साथ-साथ हमें कोविड-19 प्रोटोकोल नियमों की भी शत-प्रतिशत पालना करनी चाहिए। यह वैक्सीन शत-प्रतिशत सुरक्षित एवं कोराना संक्रमण के बचाव के लिए प्रभावी है।

पहली डोज़ के बाद दूसरी डोज़ 12 से 16 सप्ताह में लगवाने पर ईम्युनिटी पावर ओर भी बेहतर कारगर साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि 18 से 45 वर्ष तक आयु वर्ग के लोगों को टीकाकरण करवाने के लिए जिला में सामुदायिक चिकित्सा केंद्रो में स्थाई कैंप लगाने की व्यवस्था की गई है। ताकि लोग अपने नजदीकी इन स्थानों पर जाकर वैक्सीनेशन करवा सकें। जिला की जनता स्वैच्छा से टीकाकरण करवाएं तथा दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें।

उन्होंने कहा कि निर्धारित मापदंडों के तहत प्रत्येक व्यक्ति को वैक्सीन लगाना हमारा दायित्व एवं कर्त्तव्य है और इसें हम पूर्ण रूप से पूरा करेंगे। वैक्सीन लगने के बाद सम्बन्धित व्यक्ति पर कोरोना का ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता। वैक्सीन के लगने के बाद शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। जिन लोगों को यह वैक्सीन लग रही है। वे वैक्सीन लगने के बाद भी प्रोटोकोल व नियमों की पालना जैसे मास्क पहनना, सोशल डिस्टैंसिग व सैनीटाईजेशन नियमित रूप से करते रहें।

टीकाकरण अभियान नोडल अधिकारी डॉ. राजेश श्योकंद ने बताया कि जिला मे कोविड-19 के बचाव के लिए अब तक 8,56,740 लोगों की टेस्टिंग और 5,61,740 लोगों का टीकाकरण किया गया है। टीकाकरण का कार्य निरन्तर जारी है। आने वाले समय में इसको और विस्तार से शुरू किया जाएगा। जिला में सभी को स्वास्थ्य विभाग की ओर से टीका लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण जारी है। टीकाकरण करवाने के लिए युवाओं व अन्य लोगों को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

टीकाकरण अभियान के नोडल अधिकारी डॉ. राजेश श्योकंद ने बताया कि आज शुक्रवार को 45 वर्ष की अधिक आयु के लोगों को जिला के सभी की यूपीएचसी, पीएचसी, सीएससी स्वास्थ्य सेंटरों और अन्य स्वास्थ्य केंद्रों पर कोविड-19 संक्रमण के बचाव के लिए वैक्सीन लगाई गई।

उन्होंने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि एसीनगर यूपीएचसी, एत्मादपुर यूपीएससी, बल्लभगढ़ एसडीएच, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, भीम बस्ती यूपीएचसी, नागरिक अस्पताल बी.के, डबुआ यूपीएचसी, धौज पीएचसी, ईएसआई-1, ईएसआई-2, ईएसआई-3, ईएसआई-4, ईएसआई-5, ईएसआई-6, ईएसआई-7, ईएसआई-8, एफआरयु –1 सेक्टर-30, एफआरयु -2 sector-3, हरी विहार यूपीएचसी, खेड़ी कलां सीएचसी, मेवला महाराजपुर यूपीएचसी, मुजेसर यूएचसी, नंगला युपीएचसी, पाली सीएचसी, पल्ला पीएचसी, प्रतापगढ़ युपीएचसी, संजय कॉलोनी युएचसी, सारण यूपीएचसी, सेहतपुर युएचसी, एसजीएम नगर युएचसी, शिव दुर्गा विहार यूपीएचसी, सुभाष कॉलोनी यूपीएचसी, सूरजकुंड डीआईएसपी, राजीव कॉलोनी यूपीएचसी, सिवल डीआईएसपी -7 सेक्टर-7, तिगांव पीएचसी, फतेहपुर बिलौच पीएचसी, सीकरी पीएचसी, छायसां पीएचसी, दयालपुर पीएचसी, कुराली सीएचसी, मोहना पीएचसी और पन्हेरा खुर्द पीएचसी में 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों व अन्य स्टाफ के सदस्यों द्वारा कोरोना संक्रमण बचाव के लिए टीकाकरण किया गया।