पुलिस कमिश्नर ने जघन्य अपराधों के परिवादीयों व जांच अधिकारीयों के साथ की मीटिंग, अपराधो की समीक्षा कर, की एक नई शुरुवात

0
544
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj :  पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने अपने कार्यालय सैक्टर 21 सी में जघन्य अपराधों को लेकर परिवादीयों और जांच अधिकारीयों के साथ मीटिंग की है।
मीटिंग मे श्री सिंह ने शहर मे  हो चुके जघन्य अपराध के आरोपियो की गिरफतारी को लेकर समीक्षा की।
पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने पहले मुकदमों के हालात पुछे, पुछनें पर बकाया गिरफ्तारी पर श्री सिंह ने कड़ी नाराजगी जताते हुए पुलिस अधिकारीयों से आगामी कानूनी कर्यवाही के लिए कहा।
उन्होंने क्राइम कंट्रोल के लिए सख्त निर्देश दिये। उन्होंने वांछित गिरफ्तारीयों के नहीं होने पर कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा की सभी घटनाओं का खुलासा करने और लंबित विवेचनाओं का शीघ्रता से निस्तारण करें।
पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने मीटिंग में उपस्थित महेश यादव बल्लबगढ़ की शिकायत सुनी जिस पर महेश यादव ने बतलाया कि मेरे लडके दीपक को साजिश के तहत ज़हरीला पदार्थ खिलाकर हत्या की गई है जिस घटना में शामिल तीन आरोपियों के खिलाफ एन.आई.टी.थाना में मुकदमा दर्ज है जिसमें अभी तक कोई गिरफ्तारी नही हुई है।
जिस पर श्री सिंह ने कड़ी नाराजगी जताते हुए निर्देश दिये की मुकदमें में जल्द से जल्द गिरफ्तारी करके मुकदमें को टू-कोर्ट कराया जाए।
पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने मीटिंग में उपस्थित अन्य लोगों की शिकायत सुनी पूरनमल सैक्टर 2 बल्लबगढ़ ने बतलाया की  रंजिशन में भाई उमा शंकर व भतीजे नरेश के साथ मारपीट वा चाकूओं से हमला करके हत्या करने पर मुकदमा थाना आदर्श नगर मे दर्ज किया गया है।
जिस मुकदमें में कुछ आरोपीयो की  गिरफ्तारी बकाया है
वृद्ध  परीवादी सत्यपाल भाटिया भगत कालोनी ने बताया की उसकी पत्नी जो हार्ट पैशन्ट थी की  हत्या पुत्रवधु के द्वारा धक्का से हुई जिस पर मुकदमा दर्ज है कोई गिरफतारी नही हुई है। जिसमें आरोपी की गिरफ्तारी के निर्देश दिए।
विजय बीर पलवल की ने बताया की उसकी लडकी अंजू की,,,, ससुराल पक्ष के लोगो के द्वारा फांसी लगाकर हत्या की गई है। जिसमें कुछ् आरोपीयों की गिरफ्तारी बकाया है।  पुलिस कमिश्नर नहीं इसमें भी ने गिरफ्तारी के निर्देश दिए।
कौशल कुमार निवासी नरियाला ने बताया की उसके घर पर उसके साथ वा उसके पिता के साथ मार पिट करने मे चोटो के कारण पिता की मौत होने पर मुकदमा दर्ज हुआ था। जिसमे आरोपीयों की गिरफ्तारी बकाया है।
पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने  बकाया गिरफ्तारी ओं में निर्देश देते हुए कहा कि तकनीकी व वैज्ञानिक पहलुओं  के अंतर्गत  अनुसंधान करके  सभी बकाया आरोपियों की गिरफ्तारी कर जेल भेजे और  मुकदमो का चालान अदालत मे भेजे।