पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने किया एक्शन कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट एम्बुलेंस गाडियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना

0
147

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : अपनी जान को जोखिम में डालकर नागरिकों की सुरक्षा करने व जिले में कानुन व्यवस्था बनाऐ रखने वाली पीपुल्स पुलिस- फरीदाबाद पुलिस की सहायता के लिए एक्शन कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट लिमिटेड ने 5 एम्बुलेंस आमजन की सेवा के लिए समर्पित की है।

कंपनी के संयुक्त प्रबंधक निदेशक कर्नल संजय वर्मा ने बताया कि ACE आपातकालीन प्रतिक्रिया सेवा ऐसी चिकित्सकिय आपात स्थितियों के लिए नि:शुल्क 24 × 7 × 365 आपातकालीन चिकित्सा सेवा प्रदान कर रही है, जिसमें समय पर आपातकालीन चिकित्सा उपचार की कमी के कारण प्रवेश के पहले घंटे (जिसे गोल्डन ऑवर कहा जाता है) के दौरान अस्पतालों में 80% मौतें होती हैं। संपूर्ण आपातकालीन सेवा को एक अनुकूलित सॉफ्टवेयर और जीपीएस तकनीक की मदद से नियंत्रित किया जाता है।

आपातकालीन रोगियों को समय पर आपातकालीन चिकित्सा सुविधा प्रदान की जा रहा है। इन रोगियों में हृदय रोग, डायबिटीज, श्वसन रोग, मिर्गी, बर्न्स, प्रसव से संबंधित, नवजात, बाल चिकित्सा, साँप / पशु काटने, सड़क दुर्घटनाएँ, अन्य दुर्घटनाएँ जैसे शामिल हैं। ट्रेन और गैर-वाहन संबंधी आघात, आत्महत्या, डूबना, जहर, हमला और अन्य मामले में भी यह वाहन बहुत कारगार है।

चिकित्सा आपातकालीन सहायता की आवश्यकता वाले किसी भी व्यक्ति को टोल फ्री नंबर 1800-1800-009 डायल कर सकते हैं। पहली रिंग में 99% कॉल का जवाब दिया जाता है। मिस कॉल या तुरंत कॉल बैक का उपयोग कॉलर्स नंबर पर किया जाता है। आपातकालीन साइट को तुरंत पहचान लिया जाता है और जीपीएस की मदद से साइट के निकटतम एम्बुलेंस को पीड़ित के लिए सौंपा / भेजा जाता है।

पीड़ित / घटना के स्थान (पीड़ित / घटना के स्थान पर कॉल की प्राप्ति से) तक पहुंचने के लिए चिकित्सा कर्मचारियों के साथ एम्बुलेंस के लिए औसत प्रतिक्रिया समय शहरी क्षेत्रों में 8-10 मिनट और ग्रामीण क्षेत्रों में 14-16 मिनट है।
यह जीवन रक्षक यान विभिन्न सुविधाओं से सुसज्जित हैं।
जैसे-
• हृदय रोगियों के लिए डिफाइब्रिलेटर।
• श्वसन रोग के लिए वेंटीलेटर।
• वायुमार्ग की सफाई के लिए सक्शन मशीन।
• स्पाइन बोर्ड।
• पल्स की निगरानी के लिए पल्स ऑक्सीमीटर।
• आपातकालीन दवाएं।
• ऑनलाइन ट्रैकिंग और एम्बुलेंस के नियंत्रण के लिए स्वचालित वाहन स्थान ट्रैकिंग (AVLT)।
• एक्सट्रैक्शन किट।

पुलिस आयुक्त श्री विकास कुमार अरोड़ा ने अपने संबोधन में कहा कि गोल्डन ऑवर में समय पर चिकित्सा की सुविधा मिलने पर घटना या दुर्घटना के कारण मृत्यु दर के आकड़ें में कमी लाई जा सकती है। दुर्घटनाओं में जिन्दगी बचाने के लिए आज ACE कंपनी के मुख्य प्रबंध निदेशक श्री विजय अग्रवाल द्वारा आपात स्थिति में लोगों के जीवन रक्षा करने वाली सभी सुविधाओं से सुसज्जित 5 एंबुलेंस एसीई जनहित सेवा के लिए भेंट की गई है। इन एंबुलेंस के जरिए लोगों की जान बचाई जाएगी। जनहित में किए गए उनके कार्य के लिए हम कंपनी के सीएमडी विजय अग्रवाल एवं कर्नल संजय वर्मा का धन्यवाद करते हैं

सभी आपातकालीन गाड़ियाँ जीपीएस सिस्टम से कनेक्ट रहेंगी तथा टॉल फ्री नं. 1800 1800 009 पर कॉल करते ही जरूरतमंद व्यक्ति इसकी सुविधाओं का लाभ ले सकेंगे।