टेलीकॉन्फ्रेंस के द्वारा पुलिस आयुक्त महोदय ने सभी डीसीपी, एसीपी, थाना प्रबंधक और चौकी प्रभारियों को नाइट कर्फ्यू को सख्ती से लागू करने के बारे में दिए आवश्यक दिशा निर्देश 

0
274
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : आज टेलीकाफ्रैस बैठक मे निर्णय लिया गया कि माइक्रो कंटेन्मेंट ज़ोन को स्पष्ट तौर पर चिन्हित किया (MCF से बात करें) जाय और पुलिस ड्यूटी पक्की और प्रभावी (ब्रीफ़ करें और चेक करें) हो। नाइट कर्फ़्यू को सख़्ती से लागू करें।
विभिन्न स्थितियों में भीड़ की संख्या के बारे में स्पष्ट दिशा-निर्देश है। इसे तोड़ने वालों के ख़िलाफ़ उचित धाराओं में मुक़दमा दर्ज करें।
सारा ध्यान मास्क पहनने के व्यवहार को बढ़ावा देने के लिए हो। मास्क ना पहनने वालो के चालान करें और फ़्री में मास्क वितरण कर इसको बढ़ावा दें।
जागरूकता मीटिंग अधिक से अधिक करें। संवाद इस तरह का हो लोग बचाव के तरफ़ ध्यान दें, पैनिक क्रीएट ना हो।
कांटैक्ट ट्रेसिंग और जीयो-फ़ेन्सिंग में सीएमओ का सहयोग करें। इसके लिए उनसे लगातार सम्पर्क रखें।
अस्पतालों के लगातार सम्पर्क में रहें। वहाँ मरीज़ों के परिवार और अस्पताल प्रबंधन के बीच किसी तरह के वाद-विवाद में फ़ौरन हस्तक्षेप करें।
आरडबल्यूए और इंडस्ट्रीयल एसोसीएशन से सम्पर्क रखें।
पुलिस कर्मी स्वयं कोरोना से बचने के तमाम उपायों का पालन करें, जैसे कि मास्क पहनना, हाथ-धोना, दो गज की दूरी रखना और ग़ैर-ज़रूरी मुलाक़ातों से बचना। पुलिस कर्मी स्वयं बचे रहेंगे तभी दूसरों को बचा पाएँगे।
ऑक्सिजन के गोदाम को सुरक्षा दि जाए। प्रशासन के अन्य प्रभाग से सतत और प्रभावी सम्पर्क रखें।