जिला विधिक सेवा प्राधिकरण 2 अक्टूबर से 12 नवम्बर तक मनाएगा आजादी का अमृत महोसव: मंगलेश कुमार चौबे

0
96

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 28 सितंबर। जिले में आगामी 2 अक्टूबर से 12 नवम्बर 2021 को आजादी का अमृत महोसव मनाया जायेगा। यह जानकारी मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंगलेश कुमार चौबे ने आज सेक्टर-12 स्थित न्यायालय परिसर में बने सभागार कक्ष में जिले के संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ इस बारे आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवाएं प्राधिकरण के दिशा- दिशा निर्देशानुसार एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कुशल मार्गदर्शन में जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के अंतर्गत संबंधित विभागों के सहयोग से आगामी 2 अक्टूबर से 12 नवम्बर 2021 तक आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इस दौरान विभिन्न पूर्व निर्धारित समय स्थान व तिथि अनुसार आमजन से जुड़ी सरकार की योजनाओं से संबंधित योजनाओं के प्रचार-प्रसार, उनके बेहतर क्रियान्वयन हेतु कार्यक्रम आयोजित किए जायँगे। इसके अलावा स्वयंसेवी संगठनों, शिक्षण व समाजसेवी संस्थाओं, महिला- पुरुषों, स्कूल- कॉलेज के छात्र-छात्रों के साथ मिलकर ज्ञान – विज्ञान जैसे  विभिन्न विषयों पर प्रदर्शनियों, सम्मेलनों, प्रतियोगिताओं, फिल्मों, पोस्टरों, विज्ञान यात्राओं का आयोजन तथा प्रस्तुतियों के माध्यम प्रभावी चर्चाएं होंगी। उन्होंने बैठक में उपस्थित संबंधित विभागों के अधिकारियों से कहा कि वे आजादी के अमृत महोत्सव के इस दौरान अपने विभाग से जुड़ी आमजन की योजनाओं की जानकारी को उन तक पहुचाने व उनके बेहतर क्रियान्वयन हेतु अपने से जुड़े दायित्वों का  गम्भीरता एवं ईमानदारी से निर्वाह कर अमृत महोत्सव को सफल बनाने में अपना भरपूर सहयोग करे ताकि आमजन को इस महोत्सव के उद्देश्य का हर सम्भव लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव आजादी की ऊर्जा का अमृत है, स्वाधीनता सेनानियों से प्रेरणाओं का अवसर, नई ऊर्जाओं और संकल्पों का उत्सव  राष्ट्र के जागरण का उत्सव है। स्वराज के सपनों को पूरा करने का अवसर है, वैश्विक शांति को बनाए रखने का महोत्सव है।

उन्होंने बताया  इसके लिए हर जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण ने अपने स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। आजादी का अमृत महोत्सव (भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष का उत्सव) इस सम्मेलन के आयोजन की मुख्य प्रेरणा है। उल्लेखनीय है कि 12 मार्च 1930 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने नमक सत्याग्रह की शुरुआत की थी, 2020 में नमक सत्याग्रह के 91 वर्ष पूरे होने के पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने साबरमती आश्रम से अमृत महोत्सव की शुरुआत पदयात्रा को हरी झंडी दिखाकर की।