अरावली का एक भी पत्थर टूटा या एक भी पेड़ कटा तो करूंगा बड़ा विरोध चाहे फिर जाना पड़े सुप्रीम कोर्ट : एडवोकेट एल एन पाराशर

0
69

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 10 अगस्त। एनआईटी 86 विधायक नीरज शर्मा का बजरी रेत पर सदन में दिए बयान से आहत होकर, एडवोकेट एल एन पाराशर ने प्रेस के संमक्ष आकर के बयान दिया कि जनप्रतिनिधि होने के बावजूद जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने की मांग करने वाले विधायक को शर्म आनी चाहिए, अगर मांग करनी है तो बड़ी फैक्ट्रियों को लगवाने की मांग करें लेकिन यह किस तरह की मांग है कि जिस से 500- 1000 लोगों को रोजगार तो मिलेगा लेकिन करोड़ों लोग अरावली उजड़ने के बाद दमा, श्वास ,टीवी और कई घातक बीमारियों की चपेट में आ जाएंगे, उन्होंने यह भी कहा कि मांग करने वाला विधायक फरीदाबाद का ही है उसका पूरा विधानसभा क्षेत्र अरावली के साथ-साथ लगा हुआ है ,उसे कम से कम अपनी विधानसभा की जनता के स्वास्थ्य के बारे में भी सोचना चाहिए था, आधी से ज्यादा अरावली द पहले ही उजड़ चुकी है जिसका परिणाम फरीदाबाद की जनता भुगत रही है अगर रही सही अरावली को उजाड़ दिया गया तो यहां पर जनजीवन का रहना मुश्किल हो जाएगा, एडवोकेट पराशर ने कहा कि अगर यह मांग सरकार द्वारा मानी गई तो उसका पुरजोर विरोध करेंगे और इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दोबारा जाकर के कंटेंमट दायर करेंगे।