किसानों के ऐतिहासिक संघर्ष के आगे झुकी मोदी सरकार : मनोज अग्रवाल

0
82

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसान विरोधी काले कानूनों को वापिस लेने की घोषणा पर देशभर के किसानों में खुशी की लहर दौड़ गई है। इसी कड़ी में आज बल्लभगढ़ क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता व हरियाणा कांग्रेस के स्टेट सोशल मीडिया इंचार्ज मनोज अग्रवाल ने पलवल स्थित किसानों के आंदोलन स्थल पहुंचकर अन्नदाताओं का मुंह मीठा कराते हुए उन्हें इस ऐतिहासिक विजय पर बधाई दी। इस दौरान किसानों को संबोधित करते हुए मनोज अग्रवाल ने कहा की कृषि कानूनों की वापसी से साबित हो गया है कि जब इरादे अडिग हों और सामूहिक एकता हो तो सत्ता कितनी भी ताकतवर क्यों न और उसके पास संसदीय बहुमत क्यों न हो, उसे जनभावनाओं के सामने हार माननी पड़ी।  श्री अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का लगातार किसान आंदोलन के साथ खड़े रहना, कांग्रेस के नेता राहुल गांधी का सडक़ से लेकर सडक़ों तक ऐतिहासिक संघर्ष करना, गैर बीजेपी शासित राज्यों द्वारा इन कानूनों को नकार देना, लोकतांत्रिक तरीके से शांतिपूर्ण आंदोलन करना, उस भारत की जीत है जिसकी बुनियाद जनसंघर्षों और बहुलतावाद पर आधारित है। उन्होंने कहा कि इस आंदोलन के दौरान करीब 700 से ज्यादा किसानों को शहादत देनी पड़ी, लेकिन अंतत: जीत किसानों के संघर्ष की हुई। सर्दी, गर्मी और बारिश के मौसम में सत्ता के इशारे पर पुलिस बर्बरता का सामना भी करना पड़ा, लेकिन हमारे देश के अन्नदाताओं ने देश के भविष्य को बचाने के लिए अपने कदम एक इंच भी पीछे नहीं किए। किसानों के इस बलिदान को हमारा राष्ट्र सदैव नमन करेगा। इस दौरान सेवादल के प्रदेश उपाध्यक्ष संजय त्यागी, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष गजना कालीरमन, कांग्रेस सेवादल सचिव सगीरन खान, युवा कांग्रेस नेता शुभम कसाना, प्रताप शर्मा, जयकिशन पंडित, धर्मवती, ललित अन्य कार्यकर्तागण मौजूद रहे।