सार्वजनिक सुविधा सुनिश्चित करने के लिए महत्वपूर्ण नागरिक मुद्दों पर ध्यान दिया जा रहा है : सुधीर राजपाल

0
79

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 29 सितंबर। फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुधीर राजपाल ने आज फरीदाबाद जिले के विभिन्न सरकारी विभागों के साथ एक समन्वय बैठक की अध्यक्षता की। जिसमें नागरिक सेवाओं से संबंधित फरीदाबाद जिला की विभिन्न विकास परियोजनाओं पर चर्चा व समीक्षा की गई। इस दौरान उन्होंने बैठक में संबंधित विभागों को एक दूसरे के साथ मिलकर काम करने और काम में तेजी लाने के निर्देश दिए।

उन्होंने बुढ़िया नाला की सफाई के कार्य को आगे बढ़ाने के लिए, नाले के आसपास के अतिक्रमित क्षेत्र के कुछ हिस्से को एचएसवीपी की प्रवर्तन शाखा द्वारा साफ किए जाने के निर्देश है। एमसीएफ इस संबंध में एचएसवीपी को नोटिस जल्द से जल्द जारी करेगा।

फरीदाबाद के सभी क्षेत्रों में पर्याप्त जल आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए एफएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने नागरिकों को स्वच्छ पानी की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न विभागों को महत्वपूर्ण निर्देश जारी किए।

इसके साथ ही एचएसवीपी ने ग्रेटर फरीदाबाद के सेक्टर 75-89 में एफएमडीए द्वारा शेष जलापूर्ति लाइनों को बिछाने में बाधा मुक्त संरेखण प्रदान करेगा। इसके अतिरिक्त, एचएसवीपी द्वारा लगभग 1.5 किलोमीटर लंबी जल आपूर्ति लाइने क्षतिग्रस्त है और विभिन्न बिंदुओं पर रिसाव है। एफएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने एचएसवीपी को इन पाइपलाइन की मरम्मत करने और उन्हें क्रियाशील बनाने और जल्द से जल्द इन जल आपूर्ति लाइनों का आवश्यक परीक्षण और कमीशनिंग सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

जवाहर कॉलोनी में परशुराम बूस्टिंग स्टेशन के पुनर्वास का भी उल्लेख किया गया था, क्योंकि 30 वर्षीय पुराना स्टेशन और इसकी मशीनरी एक खराब स्थिति में हैं। एमसीएफ को स्टेशन के उन्नयन के लिए अनुमान तैयार करना है और इसे प्रशासनिक अनुमोदन के लिए एफएमडीए को प्रस्तुत करना है।

सेक्टर 22 और 23 में जल आपूर्ति बढ़ाने के लिए एमसीएफ को मछली बाजार क्षेत्र में 40 लाख लीटर भूमिगत टैंक की पूरी सफाई और गाद निकालने का काम करना है। साइट से पूरा रसायनिक उपचार, कचरा और मलबा हटाने के बाद एफएमडीए इस टैंक को अपनी जल आपूर्ति लाइन से जोड़ देगा, ताकि सेक्टर 22 और 23 को बेहतर जल आपूर्ति हो सके। एफएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने एमसीएफ को मौजूदा पंपों और मशीनरी के रखरखाव कार्य के साथ-साथ बुधेना बूस्टिंग स्टेशन पर बुनियादी ढांचे के विकास कार्य में तेजी लाने का भी निर्देश दिया। FMDA ओल्ड फरीदाबाद में पर्याप्त पानी की आपूर्ति का समर्थन करने के लिए बूस्टिंग स्टेशन को अपनी जलापूर्ति लाइन नंबर 6 से जोड़ेगा।

फरीदाबाद में तीन मौजूदा अंडपास की बाढ़ की समस्या को लेकर भी बैठक में चर्चा हुई। इस दौरान नगर निगम फरीदाबाद के अंतर्गत आने वाले एनएचपीसी चौक के पास ग्रीनफिल्ड कालोनी का रोड अंडरब्रिज, ओल्ड फरीदाबाद का रोड अंडरब्रिज और एचएसवीपी के अधीन मेवला महाराजपुर का रोड अंडरब्रिज शामिल थे।एफएमडीए के सीईओ ने एचएसवीपी और एमसीएफ को निर्देश दिया कि वे अंडरपास में बाढ़ और सीवर ओवरफ्लो के मुद्दे को प्राथमिकता के आधार पर सुधारने पर काम करें। पंप सेट की स्थापना, सम पंप का निर्माण और बारिश के पानी की निकासी में मदद के लिए पाइप लाइन बिछाना, जल्द से जल्द शुरू किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, रोड अंडर ब्रिज के शुरुआत पर रैंप का निर्माण और अंडरपास के खुले क्षेत्र को कवर करने को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

श्री सुधीर राजपाल ने सभी विभागों को निर्देश दिया कि वे अपने संबंधित शहर की सड़कों पर सूचनात्मक साइन बोर्ड लगाने के कार्य में तेजी लाएं। ताकि नागरिकों को संबंधित विभाग की पहचान करने में मदद मिल सके जिसके अधिकार क्षेत्र में संबंधित सड़क की मरम्मत और रखरखाव का काम आता है।

शहर में सड़क बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए, श्री सुधीर राजपाल ने एमसीएफ को निर्देश दिया कि वह सेक्टर 10/11 सड़क के निर्माण के लिए चल रही निविदा आवंटन प्रक्रिया में तेजी लाए, जिस पर तत्काल ध्यान देने की जरूरत है और परियोजना को शुरू करने के लिए ठेकेदार को अंतिम रूप देने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त कालुंडी कुंज से ग्राम चंदवाली पुल तक आगरा नहर के साथ-साथ सर्विस रोड का रखरखाव एचएसवीपी और यूपी सिंचाई विभाग द्वारा प्राथमिकता के आधार पर किया जाना है। एफएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने एमसीएफ को हार्डवेयर चैक के पुनर्वास पर काम करने का भी निर्देश दिया, जो हाल ही में हुई बारिश के बाद खराब स्थिति में है।

शहर में सड़क ढांचे में सुधार के लिए श्री राजपाल ने एमसीएफ को निर्देश दिया कि वह सेक्टर 10/11 सड़क के निर्माण के लिए चल रही निविदा पुनः आवंटन प्रक्रिया में तेजी लाए। इसके अतिरिक्त, कालिंदी कुंज से गांव चंदवली पुल तक आगरा नहर के साथ सड़क के रखरखाव को पीडब्ल्यूडी बी एंड आर द्वारा प्राथमिकता के आधार पर लिया जाना है, जो एचएसवीपी और यूपी सिंचाई विभाग के साथ सड़कों की एक नोडल एजेंसी है। एफएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने एमसीएफ को हार्डवेयर चौक के पुनर्वास पर काम करने का भी निर्देश दिया जो शहर में हाल ही में हुई भारी बारिश के बाद जर्जर स्थिति में है।

सेव फरीदाबाद एनजीओ ने जीवन नगर में सीवेज से संबंधित अपनी शिकायत प्रस्तुत की थी। एमसीएफ को जीवन नगर की अवरुद्ध सीवर लाइन को साफ-सुथरा करने और क्षतिग्रस्त हिस्से की मरम्मत करने का निर्देश दिए गए है। ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि शहर के मास्टर सीवर नेटवर्क में सीवेज प्रवाह ठीक प्रकार से हो सके। इस मौके पर फरीदाबाद के उपायुक्त विक्रम, नगर निगम फरीदाबाद के आयुक्त जितेन्द्र सिंह, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) की प्रशासक गरिमा मित्तल, फरीदाबाद स्मार्ट सिटी, सिंचाई विभाग, एचएसआईआईडीसी, डीएचबीवीएन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।